बिलासपुर (छग) मौसम पूर्वानुमान

 सूरज के तीखे तेवर: तापमान में गिरावट, फिर भी बिलासपुर में गर्मी कम नहीं

रायपुर मौसम केंद्र में महिलाएं लगाती है मौसम का पूर्वानुमान, ये है इनकी अहम भागीदारी

बिलासपुर। न्यायधानी में प्रचंड गर्मी के बाद बीते 48 घंटों के भीतर तापमान में गिरावट आई है। पारा 39.4 डिग्री सेल्सियस से गिरकर 37.2 डिग्री सेल्सियस पर आ गए हैं। मौसम विभाग का कहना है कि दक्षिणी हवाओं के चलते यह स्थिति निर्मित हुई है। आने वाले एक-दो दिनों में पारा और गिर सकता है। हालांकि तापमान में गिरावट के बाद भी बिलासपुर में तेज गर्मी का एहसास हो रहा है।

बात होली के पूर्व गर्मी ने अपना फिर से विराट रूप दिखाया था। अधिकतम तापमान 39.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया था। जबकि न्यूनतम तापमान 23.6 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। यानी दिन के साथ रात में भी गर्मी बढ़ चुकी है। वही पेंड्रा रोड में भी पारा 36.7 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। ऐसे में अब तापमान में गिरावट आने के बाद लोगों को थोड़ी राहत जरूर मिली है लेकिन गर्मी बरकरार है। शनिवार की सुबह ठंडी हवाएं चली लेकिन दोपहर को गर्मी ने वापस अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया। 

रायपुर। क्या आप जानते हैं कि मौसम का पता लगाने के लिए रायपुर में कुछ महिला वैज्ञानिक भी काम कर रही हैं। जिनकी मेहनत की बदौलत हमें रोज आने वाले समय में कैसा मौसम रहेगा इसकी जानकारी मिलती है। हम आपको उन महिलाओं के बारे में जरूर बताएंगे।

इसरो में काम करने वाली डॉ गायत्री रायपुर में डॉ. गायत्री वाणी, कांचीभोटला वैज्ञानिक-सी पद पर कार्यरत है।इन्होंने श्रीहरिकोटा इसरो में पीएचडी, “श्रीहरिकोटा पर संवहनी गतिविधि: लक्षण, पूर्वानुमान और सत्यापन” पर – 5 साल – इसरो में कार्यकाल के दौरान 13 रॉकेट लॉन्च के लिए काम किया। सीएडीसी में 2 साल काम किया, एक भारतीय नौसेना परियोजना के लिए: नौसेना के व्यक्तिगत जहाज के जहाजों के लिए एक मौसम सॉफ्टवेयर के विकास में शामिल रह चुकी है। इसके अलावा आईआईटीएम में चार साल काम कियाकिया। भारत में मेघ वज्रपात पूर्वानुमान प्रणाली के विकास पर काम किया।

छत्तीसगढ़ के सभी स्टेशनों का आंकड़ा इकट्ठा करती हैं देहुती ठाकुर

देहुती ठाकुर – इनका कार्य छत्तीसगढ़ में स्थित सभी स्टेशन के मौसम आंकड़े को इकट्ठा करना, उसमें सामान्य से अंतर निकालना, सिटी पूर्वानुमान देना, हवाई परिचालन के लिए TAF और ARFOR देना, रायपुर शहर के लिए सिटी पूर्वानुमान देना, मौसम पूर्वानुमान तैयार करना, जिलेवार वर्षा का पूर्वानुमान तैयार करना, त्वरित पूर्वानुमान देना, मौसम की चेतावनी जारी करना तथा अनुसंधान कार्य में आंकड़े इकट्ठा कर प्रोसेसिंग करना, अनुसंधान कार्य में सहायता करना।

नेहा अग्रवाल – इनका कार्य प्रदेश में स्थित सभी स्टेशन के मौसम के आंकड़े को इकट्ठा करके उसे प्रोसेस करना, सिटी पूर्वानुमान देना, हवाई परिचालन के लिए TAF और ARFOR देना, रायपुर शहर के लिए सिटी पूर्वानुमान देना, प्रदेश के लिए मौसम पूर्वानुमान तैयार करना, जिलेवार वर्षा का पूर्वानुमान तैयार करना, त्वरित पूर्वानुमान देना, मौसम चेतावनी जारी करना, अनुसंधान कार्य में आंकड़े को इकट्ठा करना तथा प्रोसेसिंग करना अनुसंधान कार्य में सहायता करना।

वर्तमान में वैज्ञानिक ‘डी’ पद पर मौसम केन्द्र रायपुर में पदस्थ हैं। कृषि मौसम से सम्बंधित पूर्वानुमान जारी करना ताकि कृषि विज्ञान केन्द्र और कृषि महाविद्यालय सम्बंधित क्षेत्र और जिलों के किसानों को आगामी मौसम के आधार पर कृषि सलाह दे सके । प्रदेश के लिए मौसम पूर्वानुमान जारी करवाना, जिले वार वर्षा पूर्वानुमान जारी करवाना, मौसम जनित घटनाओं के पूर्वानुमान और चेतावनी जारी करवाना, प्रशासनिक कार्य में सहभागिता देना इनका प्रमुख काम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.